आज 3 जून

0
56

वक़्त आने दे दिखा देंगे तुझे ऐ आसमाँ ,हम अभी से क्यूँ बताएँ क्या हमारे दिल में है ।
मेरे सभी आत्मजनो , मित्रो , स्नेहियों , गुरुजनों आप सभी को आज के दिन मेरी तरफ से मंगल कामना और आशा करती हूँ कि आज के दिन मेरे जन्मदिन पर आप सब का आशीर्वाद , स्नेह और अपनत्व पा कर आने वाले समय काल को वेधते हुए इस मातृभूमि के लिए कुछ कर सकूँ ।
इंसान का जीवन समयचक्र के राह पर अपनी तीव्र गति से गतिमान रहता है , इस समय चक्र में अनन्त राह मिलते जिसमे हर्ष , विषाद , परेशानियां , चुनौतीयां , स्नेह , द्वेष जैसे टेढे मेढ़े मोड़ आते लेकिन हौसला और संस्कार जैसे मजबूत स्तम्भ हो तो जिंदगी के सफर का राह आसान होता चला जाता है और मैं खुद ऐसे राह पर रोज चलती हुँ ।
जीवन जीने और जिंदगी के प्रति हर किसी की अपनी सोच होती पर मैं सोचती हूं कि आज जितना भी किया वह सार्थक होना चाहिए । क्योंकि भगवान हमे आज दिया है हम आज अपने इस जीवन के कर्तव्यों को पूरी तन्मयता और ईमानदारी से निभाते है अपने मूल्यों और अपनी संस्कृति को बांधे हुए बढ़ते रहे तो कल की राह आसान होती है ।
आज अपने जीवन के एक नए वर्ष में प्रवेश कर रही हूँ।
जिंदगी में जब से होस सम्भाला है तब से अब तक न जाने कितने पड़ाव आये कुछ खुशी के तो कुछ दर्द के पर जीवन का कारवां बढ़ता चला गया। हर मोड़ पर कुछ चीज महत्वपूर्ण लगती है, वही अगले क्षण गौण हो जाती है। हर क्षण इस राह में सीखने अनवरत क्रम चलता रहा है और आगे भी चलता रहेगा ।
मैं जीवन जीने की बजाय नित नये एवं रचनात्मक ढंग से सोच के साथ अपने कदम धरातल पर रखती हूं ।
जैसे हर सुबह सूरज एक नई रौशनी लेकर आता है , हर पुष्प एक नई खुशबू ले कर आती , हर दिन प्रकृति की अदा में नयापन होता है, वैसे ही हर सुबह मैं जीवन को एक नए अवतार को ध्येय में रख कर आगे की तरफ अग्रसर होती हुँ ।
सफलताएं-असफलताएं जीवन में सिक्के के दो पहलुओं की भांति हैं इनसे घबराहट कैसी बस अपने आप पर भरोसा रखें इन्हें आत्मसात कर आगे बढ़ने की प्रेरणा के साथ आगे बढ़ते रहे इसी में जीवन प्रवाह का राज छुपा हुआ है।

जीवन के इस सफर में मैंने बहुत कुछ पाया तो बहुत कुछ पाने की अभिलाषा है। ईश्वर में आस्था, माता-पिता एवं सास सशुर गुरुजनों का आशीर्वाद, सतीश जी जैसे पति का प्यार , बच्चो की खिलखिलाहट , मायके शसुराल पक्ष के सभी का ढेर सारा प्रेम , कुछ अजीज मित्रो का स्नेह जीवन के हर मोड़ को आसान बना देती है और एक नई ऊर्जा के साथ आगे बढ़ने की प्रेरणा देते हैं।
इन सब के साथ आप जैसे तमाम मित्रों एवं शुभचिंतकों का आशीर्वाद और हौसलाआफजाई
हर राह की मुश्किलें आसान बनाती चली जा रही है । जिंदगी के हर मोड़ पर आप सभी का स्नेह एवं आशीष इसी प्रकार बना रहे तो जीवन का राह और मंजिल दोनो आसान होता चल जायेगा ।

आज के दिन आप सभी का बहुत बहुत आभार जो आपने अपने शुभकामनाओं से मुझे आगे बढ़ने की हौसला प्रदान की । इनबौक्स में अगर किन्ही स्नेहीजन को रिप्लाई ना कर पाउं तो क्षमा करेंगे… 

SHARE
Previous articleआज 2 जून
Next articleआज 4 जून